Search

Press Note

कानून की रखवाली नहीं कर सकते तो सरकार की दलाली न करें गुरनाम चढूनी - जयहिंद

SYL के विरोधी हरियाणा के विरोधी ही नहीं संविधान-सुप्रीम कोर्ट के भी विरोधी - जयहिंद कानून की रखवाली नहीं कर सकते तो सरकार की दलाली न करें गुरनाम चढूनी - जयहिंद जयहिंद सेना प्रमुख नवीन जयहिंद मंगलवार को रोहतक जिला कोर्ट में पहरावर को जमीन पर से प्रशासन का कब्ज़ा छुडवाने और समाज को दिलवाने के लिए केस में पेश हुए | वही पीजीआई में बाहरी लोगों के भर्ती करवाने का विरोध करने पर भी उन पर दर्ज एक और केस में कोर्ट में पेश हुए | नवीन जयहिंद ने दर्ज केसों पर कहा कि जमीन समाज को मिल चुकी है अब इस तरह के केस से सिर्फ सरकार परेशान करने की कोशिश कर रही है | अब तक उन पर दर्जनों केस हो चुके है लेकिन जनता और समाज के लिए वे हमेशा आगे खड़े रहेंगे और एक हजार केस भी हो जाये तो पीछे हटने वाले नही है | इस जमीन पर अस्पताल , स्कूल, कॉलेज और खेल का मैदान बनेंगे जिसमे 36 बिरादरी का लोगों के बच्चे पढने -खेलने और सभी लोगों का इलाज होगा | वही हरियाणा में नौकरियों पर पहला अधिकार हरियाणा के युवाओं का है| आज प्रदेश में बेरोजगारी चरम पर है ऐसे में बाहरी लोगों को भर्ती करना प्रदेश की जनता के साथ धोखा है | अगर जनता की आवाज उठाने के लिए उन पर एक दर्जन केस भी हुए तो वे पीछे नहीं हटेंगे | वही पत्रकारों द्वारा गुरनाम सिंह चढूनी द्वारा SYL पर दिए बयान पर नवीन जयहिंद ने कहा कि गुरनाम सिंह चढूनी न सिर्फ हरियाणा के किसानों का विरोध कर रहे है बल्कि सुप्रीम कोर्ट और संविधान का भी विरोध कर रहे है | उन्हने उम्मीद नही थी कि अपने आप को किसान नेता कहने वाले किसानों की समस्या ही नहीं जानते है | हरियाणा के किसानों की 10 लाख एकड़ बंजर जमीन SYL के पानी का इन्तजार कर रही । जिस पर प्रदेश के किसान 40 लाख टन अनाज उगा सकते है। 60 प्रतिशत जनता अशुद्ध पानी पी रही है और प्रदेश के माता-बहनें कई तरह की बिमारियों की शिकार हो रही है | गावों में भूमिगत जल कई सौ फीट निचे जा चुका है | SYL का विरोध करने करने वाले वाले न सिर्फ हरियाणा के विरोधी है बल्कि प्रदेश के किसानों , संविधान - सुप्रीम कोर्ट के भी विरोधी है | अगर गुरनाम चढूनी कानून की रखवाली नहीं कर सकते है तो सरकार की दलाली का भी काम न करें | वही बढ़ते प्रदूषण पर भी नवीन जयहिंद ने सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि जनता को अपने स्वास्थ्य का ध्यान खुद रखना होगा, सरकार के भरोसे न रहे | अच्छा खाए और अच्छी मेहनत कर अपने फेफड़ों को मजबूत बनायें |

SYL पर सुप्रीम कोर्ट के निर्णय को लागु न करने की शपथ लेकर हरियाणा के लोगों के साथ केजरीवाल ने किया धोखा - जयहिंद

SYL पर क्यों नहीं बोले केजरीवाल,क्या जीभ को लग गया था लकवा - जयहिंद SYL पर सुप्रीम कोर्ट के निर्णय को लागु न करने की शपथ लेकर हरियाणा के लोगों के साथ केजरीवाल ने किया धोखा - जयहिंद SYL पर हरियाणा की जनता को जवाब देने के डर से भागे भगवंत मान - जयहिंद जादू करके 5 हजार कुर्सियों पर बैठा दिए 11 हजार पदाधिकारी - जयहिंद रविवार को रोहतक की सडकों पर "हरियाणा का गद्दार कौन" के नारे लग रहे थे | ये नारे बढती ठंड में शहर का तापमान बढ़ा रहे थे | ये नारे कोई और नहीं बल्कि नवीन जयहिंद और उनके साथी लगा रहे थे | सडकों पर ट्रेक्टर-ट्राली में खड़े लोगों के हाथों में बैनर के साथ हरियाणा की जनता केजरीवाल से सवाल कर रही थी कि उन्हें SYL के हक़ का पानी कब मिलेगा | कोई पानी की टंकी सिर पर उठाये हुए था, कोई मटका तो कोई सुप्रीम कोर्ट का ताज सिर पर लगाये हुए था | नवीन जयहिंद और उनके साथी SYL नहर के निर्माण पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल से सवाल करने निकले थे | इस मौके पर उनके साथ हजारों की संख्या में लोग केजरीवाल से हरियाणा के हक़ के पानी पर सवाल पूछने के लिए सडकों पर उतरे | नवीन जयहिंद ने SYL पर केजरीवाल को घेरते हुए कहा कि अपने पुरे भाषण में अरविन्द केजरीवाल के मुहं से SYL पर एक शब्द तक नहीं निकला | क्या उनकी जीभ को लकवा लग गया था | केजरीवाल हरियाणा को SYL का एक बूंद पानी नहीं देना चाहते इसलिए वे अपने मुंह से एक शब्द तक नही बोल पाए | नवीन जयहिंद ने कहा कि अरविन्द केजरीवाल का असली चेहरा आज लोगों के सामने आ गया है | जिस तरह से आज उन्होंने हरियाणा के लोगों का अपमान किया है उसे भविष्य में याद रखा जायेगा | SYL का पानी नहीं देने वाले को हरियाणा का जनता दिखाएगी काला पानी - जयहिंद नवीन जयहिंद ने केजरीवाल को हरियाणा का गद्दार बोलते हुए कहा कि केजरीवाल ने SYL पर सुप्रीम कोर्ट के निर्णय को लागू करने पर शपथ न लेकर हरियाणा से गद्दारी की है | इससे मंशा साफ़ होती है कि आम आदमी पार्टी हरियाणा की जनता के साथ धोखा कर रही है | हरियाणा की जनता इसे बर्दाश्त नहीं करेगी और इसका मुहं तोड़ जवाब भी देगी | जयहिंद ने तंज कसते हुए कहा कि SYL का पानी नहीं देने वाले को हरियाणा की जनता काला पानी भेजेगी | जयहिंद ने केजरीवाल को घेरते हुए कहा कि 36 बिरादरी के लोगों का सम्मान तब होगा जब वे उन्हें उनके हक़ का पानी देंगे | जो प्यासे को पानी नहीं पिला सकता वो जनता को और क्या दे सकते है | हरियाणा वाले दूध या दारू नहीं हरियाणा का हक़ का पानी मांग रहे है | जयहिंद ने तंज कसते हुए कहा कि केजरीवाल ने जादू करके 5 हजार कुर्सियों पर 11 हजार पदाधिकारी बैठा दिए | आज हरियाणा के लोगों ने बता दिया कि वे केजरीवाल को सिरे से नकार चुके है | SYL पर हरियाणा की जनता को जवाब देने के डर से भागे भगवंत मान - जयहिंद जयहिंद ने पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान पर बयानी हमला करते हुए कहा कि वे हरियाणा की जनता को किस मुहं से SYL पर जवाब देते इसलिए वे डरकर भाग खड़े हुए | हरियाणा की जनता उनसे SYL नहर के निमार्ण पर सवाल कर रही है कि वे सुप्रीम कोर्ट के निर्णय को कब लागू करवा रहे है | जयहिंद ने वही केजरीवाल और मान से संविधान, बाबा साहेब अम्बेडकर और शहीद भगत सिंह से माफ़ी मांगने के लिए कहते हुए बोले कि दोनों मुख्यमंत्रियों को माफ़ी मांगनी चाहिए क्योंकि इनकी विचारधारा खुद से पहले दूसरों का भला करने की है | जयहिंद ने कहा कि हरियाणा के 10 लाख एकड़ बंजर जमीन SYL के पानी का इन्तजार कर रही । जिस पर प्रदेश के किसान 40 लाख टन अनाज उगा सकते है। 60 प्रतिशत जनता अशुद्ध पानी पी रही है और प्रदेश के माता-बहनें कई तरह की बिमारियों की शिकार हो रही है | गावों में भूमिगत जल कई सौ फीट निचे जा चुका है | दो बार पुलिस के साथ हुई जयहिंद व् उनके साथियों की झड़प, 6 साथी हुए घायल नवीन जयहिंद व उनके साथी जब अरविन्द केजरीवाल से सवालों के जवाब लेने के लिए सेक्टर -6 से निकले तो उन्हें वही पुलिस द्वारा उपर से ऑर्डर का हवाला देकर रोक दिया गया | जब कार्यकर्ताओं की संख्या ज्यादा दिखी तो पुलिस पीछे हटी | प्रशासन वही नहीं रुका जब आम आदमी पार्टी के समारोह स्थल से 100 मीटर दूर थे तब बेरिकेडिंग लगा सैकड़ों पुलिसकर्मियों के साथ फिर झडप हुई | इसी झडप में 6 साथी भी घायल हो गये | बड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने नवीन जयहिंद और उनके साथियों को हिरासत में भी लिया |

हरियाणा में गद्दारी की नही वफादारी की शपत दिलाने आए केजरीवाल व भगवंत मान : नवीन जयहिंद

SYL पर सुप्रीम कोर्ट के निर्णय को लागू करवाने की शपथ लेकर आए : जयहिंद वीरवर को जयहिंद सेना प्रमुख नवीन जयहिंद अपने साथियों सहित चंडीगढ़ प्रेस क्लब में बड़े अनोखे ढंग से प्रेस वार्ता को पहुंचे| जयहिंद व उनके साथी सुप्रीम कोर्ट बना ताज अपने सिर पर था | टेबल पर गिलास और कटोरियों पर SYL लिखा हुआ था | किसानों के लिये सांकेतिक ट्यूबवेल भी उन्होंने इस प्रेस वार्ता में रखा | प्रेसवार्ता में नवीन जयहिंद ने SYL के मुद्दे पर केजरीवाल सरकार की दोगली राजनीति पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि वे आप के कार्यक्रम में जाकर एसवाईएल के पानी को लेकर सवाल पूछेंगे। अरविंद केजरीवाल व भगवंत मान हरियाणा आएं तो एसवाईएल के पानी का जवाब लेकर आएं। उन्होंने कहा कि SYL पर दोगली नीति नहीं चलेगी। पंजाब के सीएम जो अपने यहां रहते हैं तो एक भी बूंद पानी नहीं देने व एसवाईएल के निर्माण ना करने के बयान देते हैं। जबकि आम पार्टी हरियाणा में आती है तो केंद्र सरकार पर इसका ठिकरा फोड़ती है। जयहिंद ने आगे कहा कि माननीय सुप्रीम कोर्ट के 2002, 2004, 2016, 2023 के आदेश के बावजूद हरियाणा को SYL का हक़ का पानी नहीं मिल रहा है | जयहिंद ने कहा कि हरियाणा पंजाब का छोटा भाई है और बड़ा भाई हमेशा ही छोटे भाई के लिए बड़ा दिल रखता है | किसान आन्दोलन में हरियाणा के लोगों ने पंजाब के किसानों के लिए दूध पिलाया है तो पंजाब अब हरियाणा के किसानों को हक़ का पानी तो दे ही सकता है | वैसे भी पंजाब की जनता हरियाणा को पानी देना चाहती है लेकिन राजनीतिक दल इस पर सिर्फ राजनीति कर रहे है | हरियाणा के किसान दूध या दारू नही पानी मांग रहे है वो भी जो माननीय सुप्रीम कोर्ट के आदेश में कहा गया है | जयहिंद ने कहा कि वे पूरे हरियाणा की जनता से अपील करते है कि वे SYL पर चले इस पानी के धर्मयुद्ध का हिस्सा बने व सोशल मीडिया पर वीडियो बना कर सरकार तक जनता की आवाज पहुचाएं | साथ ही सभी दल चाहे किसान संगठन या सामाजिक संगठन, कलाकार, खिलाड़ी, एकजुट हो कर SYL के हरियाणा के हक़ के पानी की मांग सुप्रीम कोर्ट के सामने गुहार लगायें की हरियाणा को जल्द से जल्द अपने हक़ का पानी मिले जयहिंद बोले केवजरीवाल व भगवंत मान यह लें शपथ नवीन जयहिंद ने कहा कि अरविंद केजरीवाल व भगवंत मान यह शपथ लें, कि हम हरियाणा के हक का पानी लेंगे, हम सुप्रीम कोर्ट का आदेश मानेंगे। हम हरियाणा के ढाई करोड़ लोगों से गद्दारी नहीं करेंगे, एसवाईएल पर दलाली नहीं करेंगे। दोगली बात नहीं करेंगे और हम माता-बहनों को पीने के गंदे पानी से मुक्ति दिलाएंगे। हरियाणा के 10 लाख एकड़ बंजर जमीन के लिए पानी लेकर आएंगे। जिस पर प्रदेश के किसान 40 लाख टन अनाज उगा सकते है। हम 60 प्रतिशत अशुद्ध पानी पीने वाले लोगों के लिए एसवाईएल का पानी लेकर आएंगे। अगर हम यह शपथ नहीं लेंगे तो हम हरियाणा के गद्दार कहलाएंगे और जनता जूतों की माला व झाड़ू मारकर स्वागत करें। बॉक्स हरियाणा की महिलाओं ने कारवां चौथ पर माँगा SYL का पानी हरियाणा की महिलाओं ने भी नवीन जयहिंद की SYL पानी का धर्मयुद्ध की मुहिम में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया। कारवां चौथ पर प्रदेश की महिलाओं ने अपने पतियों से अगले साल SYL के पानी से ही अपना व्रत खोलने का वचन लिया। महिलाओं ने कहा कि अगर अगले साल SYL का पानी नहीं तो वे व्रत भी नहीं करेंगी। सोशल मीडिया पर महिलाओं के समर्थन व अपने पतियों से लिए इस वचन की विडियो वायरल हो रही है। दीपावली पर एक दिया एसवाईएल के नाम का लगाएं साथ ही जयहिंद ने कहा कि दीपावली पर भी सभी लोग एक दिया एसवाईएल के पानी के लिए जरूर लगाएं। जयहिंद बोले : जिम्मेदारी से ना भागे केजरीवाल व मान जयहिंद ने कहा कि पहली जिम्मेदारी पंजाब सरकार की है। दूसरा फर्ज केंद्र सरकार का है। इसलिए पंजाब सरकार अपनी जिम्मेदारी से ना भागे। आम आदमी पार्टी अपनी स्थिति स्पष्ट करके हरियाणा में आएं। हरियाणा में केजरीवाल, भगवंत मान व पंजाब के मंत्री किस मुंह से आ रहे हैं। जयहिंद ने सीएम मनोहर लाल, पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा व प्रदेश के सांसदों से मिलने का समय मांगा। ताकि एसवाईएल के मुद्दे पर चर्चा हो सके। कलाकार व खिलाड़ियों से आवाज बुलंद करने का किया आह्वान जयहिंद ने हरियाणा के सभी कलाकरों व खिलाड़ियों से की अपील की कि वे भी एसवाईएल के मामले में आवाज बुलंद करें। उन्होंने कहा कि एसवाईएल का पानी नहीं आने के कारण हरियाणा के 60 प्रतिशत लोग अशुद्ध पानी पी रहे हैं। जिसके कारण लोगों की उम्र भी घटती जा रही है। 5 से 10 साल लोगों की उम्र घट गई है। जयहिंद ने कहा कि वे सरकार से ना तो दारू मांग रहे हैं और ना ही दूध। वे तो पीने के लिए मानी मांग रहे हैं। SYL "पानी का धर्मयुद्ध" मुहीम के लिए जारी किया मिस्ड कॉल नम्बर नवीन जयहिंद ने SYL पर "पानी का धर्मयुद्ध" पर समर्थन के लिए हरियाणा की जनता 7027822822 पर मिस कॉल कर दे सकते है या अपना नाम पता लिखकर MSG कर सकते हैं |

रोहतक से SYL पानी का धर्मयुद्ध का ऐलान, 5 को अरविंद केजरीवाल व जयहिंद होंगे आमने-सामने, नवीन बोले : एक बूंद नहीं लेंगे पूरा पानी

रोहतक के सेक्टर 6 में बुधवार को SYL के पानी की मांग को लेकर मीटिंग का आयोजन किया गया। जिसकी अध्यक्षता जयहिंद सेना के अध्यक्ष नवीन जयहिंद ने करते हुए SYL के पानी का धर्मयुद्ध का ऐलान किया। 5 नवंबर को दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल व नवीन जयहिंद आमने-सामने होंगे। मीटिंग में निर्णय लिया गया कि वे आप के कार्यक्रम में जाकर एसवाईएल के पानी को लेकर सवाल पूछेंगे। अरविंद केजरीवाल व भगवंत मान हरियाणा आएं तो एसवाईएल के पानी का जवाब लेकर आएं। उन्होंने कहा कि SYL पर दोगली नीति नहीं चलेगी। पंजाब के सीएम जो अपने यहां रहते हैं तो एक भी बूंद पानी नहीं देने व एसवाईएल के निर्माण ना करने के बयान देते हैं। जबकि आम पार्टी हरियाणा में आती है तो केंद्र सरकार पर इसका ठिकरा फोड़ती है। जयहिंद ने आगे कहा कि माननीय सुप्रीम कोर्ट के 2002, 2004, 2016, 2023 के आदेश के बावजूद हरियाणा को SYL का हक़ का पानी नहीं मिल रहा है | दीपावली पर एक दिया एसवाईएल के नाम का लगाएं नवीन जयहिंद ने लोगों से आह्वान किया कि करवाचौथ पर भी पति अपनी पत्नियों को वचन दे कि वे अगली बार करवाचौथ का व्रत एसवाईएल के पानी से ही खुलवाएंगे। साथ ही जयहिंद ने कहा कि दीपावली पर भी सभी लोग एक दिया एसवाईएल के लिए जरूर लगाएं। जयहिंद बोले : जिम्मेदारी से ना भागे केजरीवाल व मान जयहिंद ने कहा कि पहली जिम्मेदारी पंजाब सरकार की है। दूसरा फर्ज केंद्र सरकार का है। इसलिए पंजाब सरकार अपनी जिम्मेदारी से ना भागे। आम आदमी पार्टी अपनी स्थिति स्पष्ट करके हरियाणा में आएं। हरियाणा में केजरीवाल, भगवंत मान व पंजाब के मंत्री किस मुंह से आ रहे हैं। जयहिंद ने सीएम मनोहर लाल, पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा व प्रदेश के सांसदों से मिलने का समय मांगा। ताकि एसवाईएल के मुद्दे पर चर्चा हो सके। कलाकार व खिलाड़ियों से आवाज बुलंद करने का किया आह्वान जयहिंद ने हरियाणा के सभी कलाकरों व खिलाड़ियों से की अपील की कि वे भी एसवाईएल के मामले में आवाज बुलंद करें। उन्होंने कहा कि एसवाईएल का पानी नहीं आने के कारण हरियाणा के 60 प्रतिशत लोग अशुद्ध पानी पी रहे हैं। जिसके कारण लोगों की उम्र भी घटती जा रही है। 5 से 10 साल लोगों की उम्र घट गई है। जयहिंद ने कहा कि वे सरकार से ना तो दारू मांग रहे हैं और ना ही दूध। वे तो पीने के लिए मानी मांग रहे हैं। जयहिंद बोले केवजरीवाल व भगवंत मान यह लें शपथ नवीन जयहिंद ने कहा कि अरविंद केजरीवाल व भगवंत मान यह शपथ लें, कि हम हरियाणा के हक का पानी लेंगे, हम सुप्रीम कोर्ट का आदेश मानेंगे। हम हरियाणा के ढाई करोड़ लोगों से गद्दारी नहीं करेंगे, एसवाईएल पर दलाली नहीं करेंगे। दोगली बात नहीं करेंगे और हम माता-बहनों को पीने के गंदे पानी से मुक्ति दिलाएंगे। हरियाणा के 10 लाख एकड़ बंजर जमीन के लिए पानी लेकर आएंगे। जिस पर प्रदेश के किसान 40 लाख टन अनाज उगा सकते है। हम 60 प्रतिशत अशुद्ध पानी पीने वाले लोगों के लिए एसवाईएल का पानी लेकर आएंगे। अगर हम यह शपथ नहीं लेंगे तो हम हरियाणा के गद्दार कहलाएंगे और जनता जूतों की माला व झाड़ू मारकर स्वागत करें। SYL "पानी का धर्मयुद्ध" मुहीम के लिए जारी किया मिस्ड कॉल नम्बर नवीन जयहिंद ने SYL पर "पानी का धर्मयुद्ध" पर समर्थन के लिए हरियाणा की जनता 7027822822 पर मिस कॉल कर दे सकते है या अपना नाम पता लिखकर MSG कर सकते हैं |

नज़रबंध जयहिंद बोले हाईकोर्ट जाऊँगा बार बार बंधक बना रही है पुलिस

जयहिंद सेना प्रमुख मुख्यमंत्री के रोहतक दौरे पर फिर से नजरबंद किए जाने पर जयहिन्द ने सरकार पर बरसते हुए कहा था कि SYL निर्माण प्रदेश व् जनता के हक़ में आवाज उठाने की सजा उन्हें मिल रही है | पहले उनके बाग़ को अँधेरे में गिराया गया और अब जब भी राज्य सरकार या केंद्र सरकार का कोई मंत्री रोहतक आता है उन्हें नजरबंद कर दिया जाता है | उनके बाग़ को पुलिस की छावनी बना दिया जाता है | उन्हें बाग में ही हॉउस अरेस्ट कर लिया गया है। प्रदेश में पानी की समस्या को उठाना सरकार के लिए समस्या बन गई | जयहिंद ने कहा कि मुख्यमंत्री अपने शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा लेने जा रहे है तो वे अपना काम और पुलिस को जनता की सेवा व् सुरक्षा करने दे | जनता के टैक्स के पैसे को उनके पीछे क्यों खराब कर रहे है | वो ऐसा कुछ भी नहीं करने वाले जिससे जनता को परेशानी हो | जयहिंद ने कहा कि लोग उनके पास अपनी समस्या लेकर आते है जिन समस्याओं का सरकार को समाधान करना चाहिए उन्हें सडकों पर उतरना पड़ता है | लाखों बुजुर्गों की पेंशन काट दी गई, दिव्यांग सरकारी दफ्तरों का चक्कर काट रहे है | परिवार पहचान पत्र को परेशान पत्र बना दिया गया है | जयहिंद ने वही SYL के मुद्दे पर भी कहा कि प्रदेश के 80% गांवों में भूमिगत जल पाताल में जा चुका है | 60 % आबादी को पीने के लिए साफ जल तक नहीं मिल रहा है | पानी की कमी की वजह से 10 लाख एकड़ जमीन बंजर हो चुकी है और कई हजारों एकड़ बंजर होने की कगार पर है | ऐसे में 40 लाख टन अनाज जो किसान पैदा कर जनता को खिला सकता है प्रदेश को घाटा हो रहा है | जयहिंद ने कहा कि गंदे पानी की वजह से लोग अनेक तरह की समस्याओं से ग्रस्त हो रहे है जैसे कैंसर, दमा, हैजा, पीलिया और त्वचा रोग और अपनी मेहनत की कमाई को प्रदेश की भलाई की जगह दवाइयों पर खर्च करना पड़ रहा है | प्रदेश की माताओं-बहनों गंदे पानी व् कमी की वजह से न सिर्फ बीमारी से ग्रस्त होती है बल्कि कई किलोमीटर दूर से पीने के पानी के लिए जाना पड़ता है | जयहिंद ने आगे कहा कि माननीय सुप्रीम कोर्ट के 2002, 2004, 2016, 2023 के आदेश के बावजूद हरियाणा को SYL का हक़ का पानी नहीं मिल रहा है | माननीय सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार पंजाब सरकार की जिम्मेदारी SYL नहर का निर्माण बनता है लेकिन पंजाब के मुख्यमंत्री ने मना करने के बाद यह केंद्र सरकार की जिम्मेदारी बनती है कि वे इस नहर का निर्माण करवाए | अब हरियाणा सरकार की जिम्मेदारी बनती है कि वे केंद्र सरकार के सामने इस मुद्दे को रखे |

गौशाला के लिए एसवाईएल का पानी जरुरी -जयहिंद

नवीन जयहिंद आज तो तोशाम में भाई सरदार गौशाला द्वारा आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि पहुंचे। इस मौके पर नवीन जयहिंद ने गौभक्तों द्वारा किए जा रहे कार्यों की सराहना की। जयहिंद ने कहा कि एक गाय की सेवा करना करोड़ों देवी- देवताओं की सेवा करने बराबर है। जो काम सरकार को करना चाहिए वह काम गौभक्त कर रहे हैं। गौ तरसकरों से गौ भक्त लड़ रहे हैं, गौशाला को गौभक्त खोल रहे हैं, बीमार और बुड्ढी गायों का इलाज भी वही करवा कर रहे हैं। सरकार सिर्फ घोषणाएं कर रही है । जयहिंद ने तोशाम में पानी की समस्या पर कहा कि तोशाम में पानी की सबसे बडी समस्या है । गौशाला को भी पानी की जरूरत है और जनता को भी। सुप्रीम कोर्ट का आदेश है कि हरियाणा को SYL का पानी मिले । हरियाणा वाले हक का पानी मांग रहे रहे। SYL पानी का धर्मयुद्ध होगा और पानी लेकर रहेंगे। जयहिंद ने कहा कि उन्हें प्रदेश भर में 1 नवंबर से SyL के पानी के लिए मुहिम शुरू करने जा रहे है और हजारों लोग उनकी इस मुहिम का हिस्सा भी बन चुके । जयहिंद ने कहा कि 60 प्रतिशत जनता को शुद्ध पानी नहीं मिल रहा है। इस मौके पर नवीन जयहिंद ने 11हजार रुपए दान स्वरूप गौशाला में दिए व सरदारा भाई के तन मन धन से सहयोग करने की बात कही।

नेताओ व भ्रष्ट लोगों से न जलवायें रावण का पुतला - जयहिंद

रावण का नहीं नेताओं का पुतला फूंके, प्रदेश की दुर्दशा के लिए रावण नहीं भ्रष्ट नेता जिम्मेदार - जयहिंद सामाजिक कार्यकर्ता नवीन जयहिंद ने दशहरे की जनता को शुभकामनायें दी और इस साल उन्होंने जनता से अपील की कि रावण का नहीं नेताओं का पुतला फूंके | प्रदेश में आज बेरोजगारी, नशाखोरी, अपराध रावण की वजह से नहीं बल्कि भ्रष्ट नेताओं की वजह से बढ रहा है | प्रदेश को SYL का पानी रावण की वजह की वजह से नहीं मिल रहा है बल्कि भ्रष्ट नेताओं की भ्रष्ट नियत की वजह से नहीं मिल रहा है | नवीन जयहिंद ने आगे कहा कि इस बार रावण का पुतला अगर फूंके तो नेताओ व भ्रष्ट लोगों से न जलवायें, रामलीला में जो राम का किरदार निभाएं उसी से रावण को जलवायें | आज प्रदेश में बुजुर्ग, दिव्यांग व् विधवा पेंशन के लिए, आम जनता पीपीपी व् काटे के गये राशनकार्ड को लेकर सरकारी तंत्र के शोषण का शिकार हो रहा है | प्रदेश में बेरोजगारी चरम सीमा पर है और जिसकी वजह से युवा नशे की गर्त में जा रहे है | नशा की लत युवाओं को क्राइम की दुनिया में धकेल रही है | आज जो प्रदेश के हालात है उसके लिए जिम्मेदार आज के नेता है | सरकार सिर्फ घोषणाएं कर रही है | जमीनी स्तर पर हकीकत इससे अलग है | आपको बता दे कि नवीन जयहिंद के रोहतक सेक्टर 6 स्तिथ बाग़ पर प्रशासन द्वारा अँधेरे में की गई कार्यवाही से वे काफी नाराज हुए और सरकार की इस अन्यायपूर्ण कार्यवाही के खिलाफ और SYL पर सरकार को घेरने के लिए 22 अक्टूबर को एक पंचायत का भी आयोजन किया जिसमे प्रदेश भर से हजारों लोग पहुंचें | इस मौके पर सरकार ने पुलिस -प्रशासन की भी चौक - चौबंदी की | जिससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि सरकार नवीन जयहिंद को हर मोर्चे पर रोकने की कोशिश कर रही है | लेकिन नवीन जयहिंद के सुर इसके बाद और भी बुलंद हो गये है | उन्होंने 1 नवंबर से SYL पर पानी के धर्मयुद्ध की घोषणा कर दी है | उनके इस ऐलान को भरपूर जनसमर्थन भी मिल रहा है |

1 नवम्बर हरियाणा दिवस पर शुरू होगा SYL पर “पानी का धर्म युद्ध - नवीन जयहिंद

सुप्रीमकोर्ट हरियाणा के ढाई करोड़ लोगो को दे न्याय और हक का पानी - जयहिंद रोहतक - रविवार को रोहतक के सेक्टर -6 में प्रदेश भर से आने वाले लोगों का ताँता लगा हुआ था | ये भीड़ कही और नही बल्कि सामाजिक कार्यकर्ता नवीन जयहिंद के बाग़ में थी | नवीन जयहिंद ने बाग में सरकार के खिलाफ हुंकार भरी और हुजूम किसी राजनीतिक पार्टी या दल का नहीं बल्कि नवीन जयहिंद के समर्थन में और SYL पर पंचायत के लिए इकट्ठी हुई भीड़ थी | नवीन जयहिंद सरकार व् प्रशासन द्वारा रात के अँधेरे में की गई कार्यवाही से बड़े नाराज थे और सरकार के खिलाफ जमकर बरसे | नवीन जयहिंद ने SYL के पानी को लेकर भी प्रदेश स्तरीय मोर्चा खोल दिया है | वे पुरे प्रदेश के लोगों को इस आन्दोलन से जोड़ेंगे और सड़क से लेकर संसद तक हरियाणा के हक़ के पानी की लड़ाई की आवाज उठाएंगे | जयहिंद ने पंचायत को संबोधित करते हुए कहा कि वे बेघर होने नहीं डरते है वो तो फुटपाथ पर भी रह लेंगे | पहले भी मंदिरों, होस्टल व् मठों में रहे है | लेकिन बाग़ में रहने वाले सैकड़ों पशु -पक्षियों के घर को भी सरकार ने उजाड़ दिया है | यहाँ लोग अपनी समस्या लेकर आते है | जनता की आवाज उठाने के कारण अगर सरकार मुझे गोली भी मार दे तो वे पीछे नहीं हटेंगे | लेकिन इस तरह कायरों की तरह भागने वालों में से वे नहीं है | नवीन जयहिंद की रगों में खून है पानी नहीं | जयहिंद न तो टूटेगा और न झुकेगा | जनता की आवाज उठाने की यही सजा है तो हर सजा के लिए तैयार है | खट्टर सरकार को बाग से नही बाग में आने वाले बागियों से समस्या हैं - जयहिंद जयहिंद ने कहा कि सरकार को बाग़ से नहीं बाग़ में पैदा होने वाले बागियों से समस्या है| उन्होंने बेरोजगारी, बुढ़ापा पेंशन काटने , पीजीआई में बाहरी लोगों की भर्तियों को रुकवाने, गरीबों के घर उजाड़ने का विरोध करने पर, गरीबों के बीपीएल राशनकार्ड काटने पर सरकार की खोखली व्यवथा की पोल खोली है | अब सरकार को नवीन जयहिंद से खुंदक है | इसलिए रात के अँधेरे में चोरों की तरह आकर कार्यवाही करनी पड़ी थी | जयहिंद ने प्रशासन की इस तरह से बिना सुचना कार्यवाही पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि वे इस देश के नागरिक है न कि कोई आतंकवादी है| इस तरह से पाकिस्तानी या फिर हमास के हमलवारों ने धावा किया था | हमें अपना सामान उठाने तक का मौका नहीं गया | शेड के नीचे तख़्त, कुर्सियां व् कुछ सामान रहा हुआ था जो अब भी मलबे के नीचे दबा हुआ है, अगर उन पर कोई सो रहा होता तो वो मर भी सकता था या गंभीर चोट लग सकती थी | इसी बीच पंचायत में आए लोगो ने कहा सरकार की रात 3 बजे कायरों की तरह बुलडोजर लेकर कार्रवाई करना कायराना हरकत की है नवीन जयहिंद ने माननीय सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी का जिक्र करते हुए कहा कि बड़ी विडम्बना की बात है कि इस देश में सुप्रीम कोर्ट के फैसले तक को नहीं माना जा रहा है | पिछले 20 सालों से कोर्ट हरियाणा को पानी दिलाने की कोशिश कर रहा है लेकिन सरकारें सिर्फ राजनीति कर रही है | दोगले लोग , दोगले दल, दोगले नेता और दोगले सिस्टम की वजह से हरियाणा की जनता को SYL का पानी नहीं मिल रहा है | ये नेता जब पंजाब में जाते है तो कहते है खून बहा देंगे लेकिन हरियाणा को एक बूंद पानी नहीं देंगे | जब हरियाणा में आते है तो SYL का पानी हरियाणा के लिए मांगते है | जनता को इनकी राजनीति समझनी होगी और अपने हक़ का पानी खुद लेना होगा | जयहिंद ने प्रदेश में पानी की स्तिथि पर कहा कि आज प्रदेश में 10 लाख एकड़ जमीन पानी के बिना बंजर है जिस पर 40 लाख टन अनाज किसान पैदा कर सकता है और गरीबों का पेट भरा जा सकता है , लेकिन पानी नहीं मिलने की वजह वो जमीन सुखी है | वही प्रदेश में पीने के पानी के हालात तो और भी बुरे है | प्रदेश के कुल 7287 गांवों में से केवल 1304 गांव ग्रीन जोन में हैं, जबकि 6150 गांवों में भूजल तेजी से नीचे जा रहा है। ये आंकड़े खुद हरियाणा जल संसाधन प्राधिकरण द्वारा पेश किये गये है | 84 प्रतिशत गांवों में भूजल स्तर तेजी से पाताल की ओर जा रहा है। ऐसे में सरकार सिर्फ ट्विट करके पल्ला झाड़ रही है | गुरुग्राम , सोनीपत, भिवानी , जींद , सिरसा , हिसार, रोहतक, झज्जर, महेंद्रगढ़, रेवाडी जिलों में तो जितने पानी की जरूरत है उससे आधा भी बड़ी मुश्किल से मिल रहा है | खुद सरकार ने मन्त्री ने माना है कि प्रदेश को जितने पानी की जरूरत है उतना नहीं मिल रहा है | 1 नवंबर से चलाएंगे SYL के लिए प्रदेश स्तरीय अभियान जयहिंद ने कहा की SYL हरियाणा का हक हैं और वे इस हक को लेकर रहेगें इसके लिए 1 नवंबर हरियाणा दिवस के दिन SYL पानी के लिए प्रदेश स्तरीय अभियान शुरू करेगे और हरियाणा की जनता को इसके लिए जागरूक करेंगे और सभी पार्टी और नेताओ की SYL पर पोल भी खोलेंगे इसी बीच नवीन जयहिंद ने 7027822822 नंबर जारी करते हुए कहा जो भी साथी इस आंदोलन से जुड़ना चाहता है वह 7027822822 पर मिस कॉल, कॉल, SMS कर सकते है हजारों लोगो ने ग्रहण किया माता का प्रसाद इस अवसर पर बाग़ में नवीन जयहिंद व् उनके साथियों ने देवी माँ की अष्टमी की कढ़ाई की व कन्याओं को प्रसाद दे शुभारम्भ किया | बाग़ में सभी जिलों से पहुंचे लोगों ने माता का प्रसाद व् आशीर्वाद लिया |

रात के 3 बजे हमास जैसा हमला किया है सरकार ने- जयहिन्द

मैं कोई हमास या पाकिस्तान का आतंकवादी नहीं हूँ- जयहिन्द SYL के पानी पर बाग में ही होगी पंचायत- जयहिंद जयहिंद मर सकता है डर नही सकता सीएम साहब सामाजिक कार्यकर्ता नवीन जयहिंद ने शुक्रवार को रोहतक सेक्टर 6 स्तिथ बाग़ से सरकार पर आग उगल रहे थे | कारण था प्रशासन का अल सुबह अँधेरे में बुलडोजर लेकर बाग़ पर कब्जा लेने पहुंचना था | बाग़ में नवीन जयहिंद और चार साथियों के साथ सो रहे थे तो बिना किसी पूर्व सुचना के एचएसवीपी के अधिकारी और सैकड़ों पुलिसकर्मी बुलडोजर के साथ पहुंचें | प्रशासन ने बिना किसी अनाउंसमेंट के सीधा बाग़ के गेट पर बने कमरे को गिराना शुरू कर दिया | इस कमरे में नवीन जयहिंद के साथी सोनू मलिक, नवीन मलिक, धर्मेन्द्र सो रहे थे | जब छत गिरने लगी तो उन्हें कुछ गड़बड़ का अहसास हुआ , बाहर निकल कर सोनू मलिक ने देख तो प्रशासन बुलडोजर से कमरे को ढाह रही थी | सोनू मलिक ने बिना देरी किये दूसरे साथियों का नींद से जगाया और अपनी सभी जान बचाकर निकले | सोनू मलिक ने पत्रकारों को बताया कि अगर थोड़ी सी भी देर हो जाती तो उन सब की जान को खतरा बन सकता था | प्रशासन और सरकार की इतनी कायरतापूर्ण कार्यवाही हरियाणा के इतिहास में नही हुई होगी | जयहिंद ने प्रशासन की इस तरह से बिना सुचना कार्यवाही पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि वे इस देश के नागरिक है न कि कोई आतंकवादी है| इस तरह से पाकिस्तानी या फिर हमास के हमलवारों ने धावा किया था |हमें अपना सामान उठाने तक का मौका नहीं गया | शेड के नीचे तख़्त, कुर्सियां व् कुछ सामान रहा हुआ था जो अब भी मलबे के नीचे दबा हुआ है, अगर उन पर कोई सो रहा होता तो वो मर भी सकता था या गंभीर चोट लग सकती थी |उन्होंने अधिकारी स्वेता सुहाग से जब इस बारे में पूछा तो कहा कि उपर से आदेश है वो कुछ नहीं कर सकती | जयहिंद ने आगे कहा कि सुबह चार बजे इस तरह चोरी छिपे पुलिस वालों को भेज कर सरकार ने अपनी कायरता का परिचय दिया है | सरकार हमें हमास के आंतकवादी समझ रही है या फिर खुद हमास के आतंकवादी है तभी ऐसी ओछी हरकत की गई है| आज हमारे घर को सरकार उजाड़ रही है कल जनता सरकार को घर से निकाल कर बेघर करेगी तब कहा जायेंगे मुख्यमंत्री | नियमों को मानने वाले ये भी तो बताये कि हाईकोर्ट से उपर सुप्रीम कोर्ट है और 90 दिन का वक्त मिलता है अभी तो सिर्फ एक महिना हुआ है | जब एचएसवीपी के अधिकारी स्वेता सुहाग को कागज दिखाए गये तो उन्होंने कहा कि वे नहीं जानती उन्हें बाग़ को ढाहने के आदेश मिले है वो इस बारे में कुछ नहीं कर सकती है | हमने इस जमीन को लेकर सुप्रीम कोर्ट में अपील की हुई है और सभी दस्तावेज दिखाने की कोशिश भी की लेकिन वो कुछ भी मानने को तैयार नहीं थी | जयहिंद ने कहा कि अगर सरकार इतना ही कोर्ट का आदेश मानती है तो पहले एसवाईएल पर माननीय सुप्रीम कोर्ट के आदेश की पालना करवाए | केंद्र में भी बीजेपी की सरकार है और हरियाणा में बीजेपी की | मैंने पहले भी कहा कि सभी राजनीतिक दल एसवाईएल पर अपना रुख स्पष्ट करें | नवीन जयहिंद से अगर सरकार को इतनी ही खुंदक है तो वे सड़क पर भी रहने को तैयार है उनका जीवन होस्टल, मंदिर, मठ व गुरुद्वारों में गुजरा है | लेकिन किसी से दबेगा नहीं | नवीन जयहिंद की रगों में खून है पानी नहीं | जयहिंद न तो टूटेगा और न झुकेगा | जनता की आवाज उठाने की यही सजा है तो हर सजा के लिए तैयार है | जैसे ही जयहिंद सेना के समर्थकों को सरकार की इस कायरतापूर्ण कार्यवाही का पता चला तो नवीन जयहिंद के समर्थन के सैकड़ों लोग वहां पहुँच गये और उनके साथ संघर्ष में पहली कतार में खड़े होने की बात कहि और सरकार की कार्यवाही की कड़ी निंदा की | युवाओं ने दिया अपने बाग़ में रहने का न्योता जैसे ही सोशल मीडिया पर बाग़ में प्रशासन द्वारा उनके निवास स्थान को नुकसान पहुँचाने व् कब्जे की बात वायरल हुई तो सैकड़ों युवाओं ने नवीन जयहिंद को अपने घर रहने का न्योता दे डाला | वही एक समर्थक ने तो अपने दो एकड़ बाग़ में रहने तक कह दिया जब तक वे चाहे आराम से रह सकते है | जयहिंद ने युवाओं के इतने समर्थन और प्यार का धन्यवाद करते हुए कहा कि उनके पास इस भाईचारे के अलावा कुछ नहीं है | रहने को तो वे रोड़ पे झुग्गी झोपडी में भी रह लेंगे | लेकिन उनके साथ बाग़ में सैकड़ों पशु -पक्षी भी रहते है | उनके बसेरे को उजाड़ कर सरकार ने नवीन जयहिंद से सीधी टक्कर ली है | अगर सरकार में दम था तो वे दिन में आते ऐसे सोते हुए पर हमला करना कायरों के काम होते है | 22 अक्टूबर को बाग़ में ही होगी पंचायत , सरकार चाहे कितने औछे हथकंडे अपना ले - जयहिंद नवीन जयहिंद ने रविवार 22 अक्टूबर को होने वाली पंचायत पर कहा कि वे अपने लिए एसवाईएल का पानी नहीं मांग रहे है | प्रदेश की जनता और किसानों के लिए ये मुद्दा उठाया है | प्रदेश की 10 लाख एकड़ जमीन बंजर पड़ी है और 60 % जनता को शुद्ध पीने का पानी तक नहीं मिल रहा है | कोई भी राजनीतिक दल इस मुद्दे पर खुल कर क्यों नहीं बोल रहा है | 22 को पुरे प्रदेश से यहाँ लोग पहुंचेंगे और माता की कढ़ाई भी की जाएगी | अगर सरकार को देवी माँ से भी परेशानी है तो उस दिन खुद मुख्यमंत्री आये कब्ज़ा लेने के लिए |

सीएम भगवंत मान के जन्मदिन पर जयहिंद ने शुभकामनायें, बोले दूध या दारू नहीं एसवाईएल का पानी मांग रहा है हरियाणा

सामाजिक कार्यकर्ता नवीन जयहिंद ने मंगलवार को पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान को उनके जन्मदिन पर शुभकामनायें दी और उनके नाम एक संदेश जारी करते हुए कहा कि हरियाणा दूध या शराब नहीं बल्कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार अपने हक़ का पानी मांग रहा है | पंजाब सरकार माननीय सुप्रीम कोर्ट के आदेश का सम्मान करते हुए हरियाणा को हक़ का पानी दे ताकि हरियाणा के किसानों की बंजर पड़ी जमीन पर खेती कर सके | हरियाणा तो वैसे भी मान साहब की ससुराल है तो हरियाणा के प्रति उनकी और अधिक जिम्मेदारी बनती है कि वे यहाँ के किसानों के लिए इतना तो कर ही सकते है | जयहिंद ने कहा कि हरियाणा की जनता को दोगले नेता, दोगले दल वालों से लोगों को सावधान रहना होगा | हरियाणा की लगभग 10 लाख एकड़ जमीन बिना पानी बंजर पड़ी है और 60 % लोगों तक शुद्ध पानी नहीं पहुँच पा रहा है जिसकी वजह से लोग बीमार हो रहे है | जयहिंद ने कहा कि 22 अक्टूबर को रोहतक में एक पंचायत की जा रही है जिसमे पुरे प्रदेश से लोग आयेंगे और सर्वसम्मती से आगे की रणनीति पर फैसला लिया जायेगा | जयहिंद ने पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान को उनके जन्मदिन शुभकामनायें देते उनके लम्बे, खुशहाल व् स्वस्थ जीवन की कामना की |

Find Us on Facebook